Uttarkashi Magh Mela 2023: मेले के संचालन के लिए पुलिस की तैयारियां पूरी

373
Uttarkashi Magh Mela 2023: मेले के संचालन के लिए पुलिस की तैयारियां पूरी

मकर संक्रांति (14 जनवरी 2023) से Uttarkashi जिले में Magh Mela शुरू हो गया है। माघ मेले मे उत्तरकाशी के दुरस्थ क्षेत्रों व आस-पास के जनपदों से बडी मात्रा में आगन्तुक/मेलार्थी यहां पहुँचते हैं। इस दौरान स्नान पर्वो पर गंगा तथा यमुना वैली से देव डोलियां यहां विभिन्न घाटों पर पहुँचती हैं। मेले के दौरान समुचित पुलिस एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने हेतु पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी अर्पण यदुवंशी के निर्देशन में उत्तरकाशी पुलिस ने पुख्ता इंतजाम कर लिये हैं।

यह भी पढ़ें- माघ मेला-2023 के दौरान उत्तरकाशी में रहेगा यह ट्रैफिक प्लान 

Uttarkashi Magh Mela 2023 के सुरक्षा नोडल अधिकारी अनुज कुमार (Co Uttarkashi) ने शुक्रवार को मेला स्थल का स्थलीय निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उनके द्वारा रामलीला मैदान में पहुंचकर मेले से सम्बन्धित सभी विभागों जिला पंचायत, नगरपालिका, ठेकेदारों,फायर सर्विस, SDRF, पुलिस, स्थानीय अभिसूचना इकाई, पुलिस दूरसंचार आदि से व्यवस्थाओं की समीक्षा की गई, साथ ही मेले में चरखी व झूला को प्रोपर व सुरक्षित तरीके से लगाने तथा दुकानों व स्टॉल को सुव्यवस्थित व उचित दूरी पर लगाने के निर्देश दिये गये।

Uttarkashi Magh Mela 2023

CO Uttarkashi ने बताया कि कोरोना महामारी की वजह से विगत 1-2 वर्षों से उत्तरकाशी में माघ मेला का आयोजन नहीं हो पाया था, ऐसे में Uttarkashi Magh Mela 2023 में मेलार्थियों की भारी मात्रा में भीड़ उमडने की सम्भावना है। इस बार मेले में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। सम्पूर्ण मेला स्थल व बाजार सीसीटीवी कैमरों की निगरानी पर है। मेलास्थल के आस-पास लगभग 30 सीसीटीवी कैमरे एक्टिव रहेगे, चप्पे-चप्पे पर पुलिस की निगरानी रहेगी। मेले को शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करवाने हेतु इस बार पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है।

मेला स्थल पर ही पुलिस कंट्रोल बनाया गया है। मेले के दौरान सुगम एवं समुचित यातायात व्यवस्था हेतु शहर के अन्दर यातायात को वर्जित किया गया है, ट्रैफिक को शहर के बाहर से डायवर्ट किया गया है। इस दौरान अपर मेलाधिकारी, एम.एस. राणा, मेला/कोतवाली प्रभारी  दिनेश कुमार, बाजार चौकी प्रभारी, प्रकाश राणा कनिष्ठ अभियन्ता पुष्पेन्द्र, पुलिस, फायर, एसडीआरएफ, अभिसूचना इकाई, पुलिस दूरसंचार के अधिकारी/कर्म0गण मौजूद रहे।